fbpx
दिल्ली हाईकोर्ट अब जेट एयरवेज के फाउंडर नरेश गोयल पर सख्त हुआदेश बिज़नेस ट्रेन्डिंग 

दिल्ली हाईकोर्ट अब जेट एयरवेज के फाउंडर नरेश गोयल पर सख्त हुआ.

दिल्ली हाईकोर्ट ने केंद्र की मोदी सरकार के नरेश गोयल के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी करने के मुददे पर जवाब माँगा है.

दिल्ली न्यूज़ (Delhi News): भारी कर्ज के बोझ के तले डूब चुकी जेट एयरवेज के फाउंडर नरेश गोयल को अब एक बड़ा झटका दिल्ली के हाई कोर्ट से मिला है.नरेश गोयल ने केंद्र की मोदी सरकार के लुक आउट सर्कुलर के खिलाफ दिल्‍ली हाईकोर्ट में याचिका दायर किया था.नरेश गोयल के इस याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट ने सुनवाई करते हुए नरेश गोयल से कहा की अगर आपको विदेश जाना है तो उससे पहले 18 हजार करोड़ रुपये चुकाना होगा. दिल्‍ली हाईकोर्ट ने इसके साथ ही इस पूरे मामले पर केंद्र सरकार से भी जवाब मांगा है.

क्या है लुकआउट सर्कुलर नोटिस का मामला ?

पिछले महीने 25 मई को जेट एयरवेज के पूर्व चेयरमैन नरेश गोयल और उनकी पत्नी अनिता गोयल को लंदन के लिए उड़ान भरने जा रहे एक विमान से उतार लिया गया था. मुंबई स्थित छत्रपति शिवाजी महाराज अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे से एमिरेट्स ईके-507 की विमान में दोनों सवार हो चुके थे. इस नाटकीय घटनाक्रम में विमान उड़ान भरने ही वाला था कि उसे रोक लिया गया. इसके बाद नरेश गोयल ने दिल्ली के हाई कोर्ट में याचिका दायर करते हुए कहा था कि मुझ पर कोई प्राथमिकी केस दर्ज नहीं की गयी है फिर भी मुझे 25 मई को दुबई की एक उड़ान से उतार लिया गया. नरेश गोयल ने कहा कि मुझे लुक आउट सर्कुलर की जानकारी ही 25 मई को तब मिली जब वह और उनकी पत्नी अनीता दुबई जा रहे थे, जहां से वह लंदन जाने वाले थे.

जेट एयरवेज 9 हजार करोड़ के कर्ज में डूबी

जेट एयरवेज लगभग 9 हज़ार करोड़ में डूबी है. इसके बाद जेट एयरवेज की लगभग सभी उड़ाने बंद हो गई है.वही दूसरी तरफ इस एयरलाइन्स में काम करने वाले कर्मचारियों को पगार भी नहीं मिला.अब जेट एयरवेज दिवालिया प्रक्रिया से गुजर रही है. बीते दिनों ही राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) ने जेट एयरवेज की दिवाला एवं ऋण शोधन अक्षमता प्रक्रिया शुरू करने की याचिका को स्वीकार कर लिया है.

Leave a Comment