अयोध्या पर फैसले आने से पहले मुंबई में सुरक्षा बढ़ाई गई.

अयोध्या में राम जन्म भूमि पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले आने से पहले मुंबई पुलिस ने शहर के अति संवेदनशील इलाको में  कड़े इंतेज़ाम किये.

मुंबई न्यूज़ (Mumbai News): उत्तरप्रदेश के अयोध्या में राम (Ram) जन्म भूमि-बाबरी मस्जिद (Babri Masjid) भूमि विवाद के मामले पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के फैसला आने से पहले मुंबई (Mumbai) में सुरक्षा के कड़े इंतेज़ाम किये गए है. मुंबई पुलिस के एक अधिकारी ने बताया की मुंबई में पहले से निषेधाज्ञा लागु है और मुंबई शहर में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद जश्न मनाने या इस पर दुख प्रकट करने के लिए किसी तरह के कार्यक्रम के आयोजन की अनुमति नहीं दी जाएगी.

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बारे में

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई (Ranjan Gogoi) 17 नवंबर को सेवानिवृत्त होने से पहले अयोध्या मामले में फैसला सुना सकते हैं. इस मामले की गंभीरता देखते हुए मुंबई पुलिस आयुक्त संजय बर्वे (Sanjay Barve) ने पत्रकारों एवं धर्म गुरुओं समेत मुस्लिम समुदाय के कुछ प्रमुख सदस्यों के साथ एक बैठक की और उन लोगो से शीर्ष अदालत के फैसले को स्वीकार करने की अपील की. मुंबई पुलिसआयुक्त (Mumbai Police) ने कहा की संवेदनशील इलाकों में ज्यादा एहतियात के साथ सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं. शीर्ष अदालत का जो भी फैसला आए, प्रत्येक व्यक्ति को इसे किसी समुदाय के सदस्य की तरह नहीं बल्कि देश के एक नागरिक के तौर पर स्वीकार करना चाहिए.” आपको बता दे की मुंबई पुलिस ने चार से 18 नवंबर तक निषेधाज्ञा लागू कर दी है जो लोगों के गैरकानूनी तरीके से एकत्र होने को प्रतिबंधित करता है. पुलिस आयुक्त ने आगे बताया की “किसी समुदाय की भावनाओं को आहत करने वाली आपत्तिजनक टिप्पणी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.” पुलिस अधिकारी ने कहा कि सभी नागरिकों से अफवाहों में यकीन न करने की अपील की गई है और इस तरह की कोई भी बात सामने आने पर पुलिस को सूचित करने को कहा गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

m/wp-content/themes/colormag/js/skip-link-focus-fix.js?ver=5.2.4'>