Who will win if the assembly elections are held in Bengal now?राजनीती 

बंगाल में अभी विधानसभा चुनाव हुए तो कौन जीतेगा?

लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने 18 सीटों पर तो ममता की टीएमसी पार्टी को सिर्फ 22 सीट मिली थी.

कोलकत्ता न्यूज़ (Kolkata News): बीजेपी ने पूर्वी भारत में अपनी कड़ी मेहनत के बल पर इस लोकसभा चुनाव में शानदार प्रदर्शन किया हैं, पश्चिम बंगाल में जहा बीजेपी का कुछ नामोनिशान नहीं था वहां पर वो सिर्फ पांच साल में राज्य की मुख्य विपक्षी पार्टी बन गई है. चुपचाप कमल छाप का नारा देकर बीजेपी ने चुपके से ममता के किले में सेंध लगा दी है. बीजेपी ने इस लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल की 42 में से बीजेपी ने 18 लोकसभा सीटों पर शानदार जीत हासिल किया और ममता बनर्जी के टीएमसी पार्टी के हिस्से में 34 से घटकर अब सिर्फ 22 सीटें बचीं हैं. लेकिन मौजूदा समय में दल बदल और जबरदस्त ध्रुवीकरण के चलते ये साफ कहा जा सकता है कि साल 2021 में होने वाले विधानसभा चुनाव ममता बनर्जी और तृणमूल पार्टी के लिए आसानी से जीतती नहीं दिख रही है.

आकड़ो के हिसाब से क्या हो सकता हैं?

पश्चिम बंगाल में 42 लोकसभा सीटें हैं. इन सभी लोकसभा सीटों में 7 विधानसभा क्षेत्र आते हैं, इस तरह राज्य में कुल 294 विधानसभा सीटें हैं. आंकड़े बताते हैं कि अगर विधानसभा चुनाव में भी वोटिंग पैटर्न लोकसभा चुनाव जैसे ही रहे तो पश्चिम बंगाल के होने वाले विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस को सिर्फ 164 सीटें ही मिलेंगी और पश्चिम बंगाल विधानसभा में  बहुमत का जादुई आकड़ा 148 का है और टीएमसी पार्टी को मिलने की आशा से ये 16 सीटें ज्यादा हैं. वहीं बीजेपी को 121 सीटें मिल सकती हैं.

कांग्रेस और लेफ्ट का सबसे  बुरा हाल हो सकता हैं, कांग्रेस को इस विधानसभा चुनाव में 9 सीटें मिल सकती हैं और लेफ्ट तो शायद इस गिनती को भी न छू पाए. आंकड़ों के मुताबिक बीजेपी राज्य के उत्तर और पश्चिम की सीटें जीत रही हैं वहीं तृणमूल दक्षिण में मजबूत दिखाई दे रही है.

 

प्रकाशित खबरे

Leave a Comment