हैदराबाद रेप और मर्डर केस के आरोपी के माँ ने कहा उसे भी वैसे जला दो जैसे महिला डॉक्टर को जलाया .

हैदराबाद रेप और मर्डर केस के आरोपी के माँ का कहना है की अगर उनका बेटा गैंग रेप, कत्ल और 27 साल की पशु चिकित्सक को जलाने का दोषी है तो उसे भी जला दिया जाना चाहिए.

हैदराबाद न्यूज़ (Haidrabaad News): हैदराबाद में हुए जघन्य अपराध रेप और मर्डर केस के सिलसिले में पुलिस ने 4 आरोपी गिरफ्तार कर लिया है.इस जघन्य अपराध में शामिल एक आरोपी के माँ का कहना है की अगर उनका बेटा गैंग रेप, कत्ल और 27 साल की पशु चिकित्सक को जलाने का दोषी है तो उसे भी जला दिया जाना चाहिए.

हैदराबाद रेप और मर्डर केस में शामिल आरोपी के माँ ने और क्या कहा ??

आपको जानकारी के लिए बता दे की हैदराबाद रेप और मर्डर केस के आरोप में गिरफ्तार 4 आरोपियों में से एक आरोपी (चेन्नाकेशावुलू) की मां ने पत्रकारों से बात करते हए कहा, ‘अगर मेरे बेटे ने इस अपराध को अंजाम दिया है और उसे जलाया है तो मेरा बेटा मेरे लिए कुछ भी नहीं है. गलत तो गलत है.’ आरोपी के माँ ने आगे कहा की उसे यह विश्वास नहीं हो रहा कि उसके बेटे ने ऐसी हरकत की है. लेकिन अगर वह दोषी साबित होता है तो उसे अन्य आरोपियों की तरह वही सजा मिलनी चाहिए. आरोपी की मां का यह बयान घटना के एक दिन बाद आया जब उसके बेटे ने अपने साथियों के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया.

हैदराबाद के लोगो ने नेताओ को युवती के घर जाने से रोका .

इस वीभत्स जघन्य घटना के बाद हैदराबाद में लोगो के बीच काफी गुस्सा और आक्रोश है,हैदराबाद के शमशाबाद में पशु चिकित्सक युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म और जलाकर मार देने जैसी वीभत्स घटना के पांचवें दिन रविवार को युवती के घर के पास उस समय तनाव काफी बढ़ गया , जब स्थानीय निवासियों ने राजनेताओं, पुलिस और मीडिया को इलाके में प्रवेश करने से रोक दिया. आपको बता दे की शमशाबाद में जहां दरिंदगी की भेंट चढ़ी युवती का घर है, वहां रिहायशी इलाके के नक्षत्र विला के गेट पर एक बोर्ड टंगा हुआ था, जिस पर लिखा था, ‘कोई सहानुभूति नहीं, केवल कार्रवाई और न्याय.’ कुछ राजनितिक दलों के नेताओ और कार्यकर्ताओ को लोगो के कड़े विरोध का सामना होने के वजह से पीड़ित युवती के परिवार से बिना मिले वापिस जाना पड़ा.स्थानीय लोगो की मांग है की तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव पीड़ित परिवार के साथ न्याय करने के लिए तुरंत जवाब दें.लोगो का कहना है की परिवार को राजनेताओं और अन्य लोगों से सहानुभूति की जरूरत नहीं है. राज्यपाल तमिलिसाई सुंदरराजन और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किशन रेड्डी समेत कई लोग पीड़िता के घर सांत्वना देने के लिए मिल चुके हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *